mahakal sawari ujjain

mahakal sawari : भक्तों के लिए एक अनोखा अनुभव

जय महाकाल!

श्रावण मास का आगमन समीप है और उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में भगवान महाकाल की शाही सवारी की धूम धाम से तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। यह पवित्र उत्सव न केवल भक्तों के लिए आस्था का केंद्र है, बल्कि पर्यटकों के लिए भी एक अविस्मरणीय अनुभव प्रदान करता है।

कब से शुरू होगा सावन 2024?

पंचांग के अनुसार, इस साल 22 जुलाई, सोमवार से श्रावण मास की शुरुआत होगी। यह पवित्र मास 19 अगस्त, सोमवार को समाप्त होगा। इस बार 5 सोमवार होने से, सावन मास का महत्व और भी अधिक बढ़ जाता है।

कब-कब निकलेगी भगवान महाकाल की सवारी?

सावन मास में भगवान महाकाल की सात सवारियां निकलती हैं। इनमें से पांच सवारियां सावन मास में और दो सवारियां भादो मास के पहले दो सोमवार को निकलती हैं।

2024 में mahakal sawari की तारीखें इस प्रकार हैं:

  • 22 जुलाई: पहली सवारी (सोमवार)
  • 29 जुलाई: दूसरी सवारी (सोमवार)
  • 5 अगस्त: तीसरी सवारी (सोमवार)
  • 12 अगस्त: चौथी सवारी (सोमवार)
  • 19 अगस्त: पांचवीं सवारी (सोमवार, रक्षाबंधन)
  • 26 अगस्त: छठी सवारी (सोमवार, श्रीकृष्ण जन्माष्टमी)
  • 2 सितंबर: सातवीं और शाही सवारी (सोमवार)

mahakal sawari का महत्व:

2 सितंबर को निकलने वाली शाही सवारी इस उत्सव का मुख्य आकर्षण होती है। इस दिन भगवान महाकाल को पालकी में सजाकर शहर में घुमाया जाता है। लाखों श्रद्धालु इस भव्य उत्सव में भाग लेते हैं और भगवान महाकाल के दर्शन का आशीर्वाद प्राप्त करते हैं।

यहां कुछ रोचक तथ्य दिए गए हैं जो महाकाल की सवारी को और भी विशेष बनाते हैं:

  • सवारी में शामिल होने वाले वाहन: भगवान महाकाल को विभिन्न वाहनों पर सवार होकर निकाला जाता है, जिनमें पालकी, रथ, नंदी, और घोड़ा शामिल हैं।
  • संगीत और नृत्य: सवारी के दौरान ढोल-नगाड़े, शंख, और बांसुरी की मधुर धुनें बजती हैं। भक्त भगवान शिव के भजनों पर नाचते-गाते हैं।
  • आकर्षण: सवारी के मार्ग में जगह-जगह भक्तों के लिए भोजन और जलपान की व्यवस्था होती है। विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी किया जाता है।

mahakal sawari में शामिल होने के लिए कुछ सुझाव:

  • पहले से योजना बनाएं: यह उत्सव बहुत लोकप्रिय है, इसलिए पहले से होटल और यात्रा की व्यवस्था कर लें।
  • जल्दी पहुंचें: सवारी देखने के लिए अच्छी जगह प्राप्त करने के लिए जल्दी पहुंचें।
  • आरामदायक कपड़े पहनें: आपको भीड़ में चलना होगा, इसलिए आरामदायक कपड़े और जूते पहनें।
  • पानी और भोजन साथ रखें: गर्मी में आपको पानी और भोजन की आवश्यकता होगी।
  • सुरक्षा का ध्यान रखें: भीड़ में अपनी जेब का ध्यान रखें और अपने सामान को संभालकर रखें।

mahakal sawari एक अविस्मरणीय अनुभव है जो आपको आध्यात्मिकता और भक्ति से जोड़ता है।